कम पढ़ी लिखी व अनपढ़ महिलाओं के लिए काम (2024)| घर बैठे बेहतरीन काम के विकल्प?

भारत में ऐसी बहुत सारी महिलायें हैं जो काम करना चाहती हैं लेकिन कम पढ़ी लिखी और अनपढ़ होने के कारण उन्हें काम नहीं मिल पाता, लेकिन अनपढ़ होने के बावजूद भी आप मेहनत करके अच्छे खासे पैसे कमा सकती हैं इससे कोई फर्क नहीं पड़ता की आप कम पढ़ी लिखी हैं। 

आज में हम आपको बताएंगे की अनपढ़ महिलाओं के लिए काम कौन से हैं जिसे बेरोजगार महिलायें, लेडीज घर बैठे भी कर सकती हैं। ऐसा जरुरी नहीं है की अगर मैं पढ़ी लिखी नहीं हूँ तो मुझे नौकरी नहीं मिलेगी, इतना तो हम सब जानते हैं कि कोई भी काम बिना मेहनत के नहीं होता है और ऐसे बहुत सारे काम हैं जिसे महिलाये शुरू करके आत्मनिर्भर और एक नई ज़िन्दगी की शुरुआत कर सकती हैं।

आज के इस आर्टिकल में नीचे मैंने 15 से ज्यादा कम पढ़ी महिलाओं के लिए काम के बारे में चर्चा किया है जिसे शुरू करके घर से भी कमा सकती हैं और बाहर जाकर भी कमा सकती है। 

अनपढ़ महिलाओं के लिए काम

नीचे हम घर बैठे महिलाओं के लिए काम के बारे में जानेंगे, जिसे शुरू करने के बाद कम पढ़ी महिलाएं थोड़े पैसों के साथ अच्छे पैसे कमा सकती हैं। तो चलिए शुरू करते हैं। 

सब्जी का ठेला लगाकर

सब्जी

सब्जी का बिज़नेस पुरुष ही नहीं बल्कि महिला भी शुरू कर सकती है बाजार जाते हुए आपने देखा होगा की ठेले पर, दूकान लगाकर महिलाये भी अच्छे पैसे कमा रही है इसे बड़ा उदहारण आपके लिए क्या हो सकता है। 

हरी सब्जी खाने के एक नहीं कई सारे फायदे हैं सब्जी हमारे पाचन क्रिया को मजबूत करने के साथ साथ कई सारी बीमारियों से लड़ने में मदद करता है जैसे कैंसर, हृदयरोग, रक्तचाप इत्यादि।    

आप गांव में रहती हो या शहर में उससे फर्क नहीं पड़ता दोनों ही जगहों पर सब्जी बेचकर कमाई की जा सकती है शहर में आप किसी भी सब्जी मंडी से थोक भाव में सब्जी लेकर उसे एक ठेले पर लगाकर महोल्लों में बेच सकती हैं या फिर अपनी सब्जी की दूकान भी खोल सकती हैं। 

अगर आप गांव में रहती हैं तो आपको पता होगा कि वहां सब्जी लेने के लिए थोड़ा दूर जाना पड़ता है और उसका भी समय होता है और जल्दी सब्जी मिलती भी नहीं है। 

प्रॉफिट मार्जिन: 10%-20%

निवेश: 5 से 15 हज़ार तक 

कमाई: महीने का 20 से 50 हज़ार रुपया 

रॉ मटेरियल: हरी सब्जियां, एक ठेला या फिर छोटा सा कमरा इत्यादि। 

इस मौके का फायदा आप उठाकर गांव में एक ठेले पर सब्जी लेकर गली में बेच सकती है नहीं तो बाजार या फिर दुकान भी लगा सकती हैं। लेकिन सब्जी हमेशा ताज़ी होना चाहिए जिससे ग्राहकों को आप पे ऊगली उठाने का मौका ना मिले।  

आपको ये भी पता होना चाहिए कि ज्यादातर कौन सी सब्जियां लोग ज्यादा लेते हैं जैसे आलू, प्याज, मेथी, लहसुन, मिर्च, धनिया, सोआ, टमाटर, पालक, मूली, बैंगन, गोभी इत्यादि ये सभी सबसे ज्यादा बिकने वाली सब्जियां है। 

आप अगर गांव में रहती हैं तो सब्जी खुद ही उगा सकती है और कुछ बाज़ार से भी लाकर दुगने भाव में बेचकर गांव में जल्दी कमाई कर सकती हैं ऐसा नहीं है जैसे मैंने आपको ऊपर बताया चाहे गांव में इस काम को करें या फिर शहर में कमाई दोनों ही जगह है। 

इस काम का कोई मौसम नहीं होता है ये व्यवसाय सदाबहार है जो साल के 12 महीने चलता है गर्मी हो, बारिश हो या फिर ठंडी कोई न कोई सब्जी आती रहती है इसलिए बिना डरे इस व्यवसाय को महिलाएं शुरू कर सकती हैं।  


फल बेचकर 

फल बेचकर

फल हमारे शरीर को पौष्टिक तत्व देता हैं इसमें कई तरह के मिनरल्स, विटामिन, फाइबर, पोटेशियम, फोलेट, प्रोटीन, कैल्शियम, एंजाइम होते हैं फल बहुत तरह के होते हैं और सबके फायदे भी अलग होते हैं जो शरीर को फिट बनाने में मदद करते हैं। 

पहले ऐसा नहीं होता था लेकिन समय के साथ साथ बहुत सारी चीजें बदल रही हैं महिलाएं भी कई छत्र में आगे बढ़ रहीं हैं पुरुष के मुकाबले ज्यादातर महिलाएं फल का व्यवसाय करती हैं। अगर आप भी कमाई करना चाहती हैं तो फल का व्यवसाय शुरू कर सकती हैं। 

प्रॉफिट मार्जिन: 30%-40%

निवेश:15 से 30 हज़ार तक 

कमाई: महीने का 25 से 30 हज़ार रुपया 

रॉ मटेरियल: तरह तरह के फल जैसे, केला, संतरा, आम, कीवी, अंगूर, कमरा या फिर ठेला इत्यादि। 

फल एक ऐसा व्यवसाय एक ऐसा व्यवसाय है जो जल्दी घाटे में नहीं जाएगा, फल को हर कोई खाता है चाहे वो जानवर हो, मरीज़ हो या स्वस्थ इंसान, 12 महीने चलने वाले इस बिज़नेस में कमाई तो है ही साथ में मुनाफा भी बहुत बड़ा है। 

फल को आप मंडी से, थोक भाव में खरीदें या सीधे किसानों से भी खरीद सकते हैं और गली में, मोहल्ले में, हॉस्पिटल के सामने, बाजार में, इत्यादि जगहों पर एक ठेला लगाकर आसानी से बेचकर अच्छी खासी कमाई की जा सकती है। 


सिलाई करके

सिलाई करके

आप सिलाई करना जानती है और अगर नहीं जानती है तो आसानी से सिलाई सीख सकती है और घर बैठे या फिर सिलाई सेंटर में काम करके महीने का अच्छा खासा पैसा कमा सकती है। 

आज के समय में सिलाई का बहुत ज्यादा महत्व बढ़ गया है दूकान से ख़रीदे कपडे तो सभी पेहेनते हैं लेकिन लोगों में कपड़ों को लेकर क्रेज़ इतना ज्यादा बढ़ गया है की बहुत सारे लोग तो ऐसे हैं जिनको सिला हुआ कपड़ ज्यादा पसंद आता है। 

आप सिलाई ऑनलाइन भी सिख सकती है और चाहे तो ऑफलाइन भी सिख सकती हैं फिर आप और लेडीज को अपने साथ सिखा सकती हैं जिससे आपकी प्रैक्टिस भी होती रहेगी और पैसे भी आते रहेंगे। 

प्रॉफिट मार्जिन: 45%-50%

निवेश: 40 से 50 हज़ार तक

कमाई: महीने का 10 से 30 हज़ार रुपया 

रॉ मटेरियल: मशीन, सुई, धागा, कैंची, इंची टेप, चौक, कपड़े के प्रकार अलग-अलग होते हैं जैसे ब्लाउज का अलग, सूट का, पेंट शर्ट का, कॉटन कपड़े इत्यादि। कई जगह से आपको कपड़े सस्ते दाम में मिल जाएंगे लेकिन होलसेल से कपड़े खरीदना से फायदा होगा।    

एक बार जहाँ आपने सिलाई सिख ली फिर आप खुद का सिलाई सेंटर खोल सकतीं हैं और सारे कपडे की क्वालिटी एक जैसे नहीं होती है, तो उसके चार्ज भी अलग अलग होंगे, पेटीकोट, टी शर्ट, ब्लाउज, टॉप, स्कर्ट इत्यादि किसी का कम चार्ज होगा तो किसी का ज्यादा। 

इस तरीके से सिलाई में भी काम पैसा नहीं है तो एक अनपढ़ महिला के लिए सिलाई का काम अच्छा विकल्प साबित हो सकता है, एक बार सिलाई के काम में माहिर होने के बाद आप खुद का दूकान खोलकर लाखों की कमाई भी कर सकतीं हैं।


नाश्ते की दुकान 

नाश्ते की दुकान 

अगर आप जानना चाहतीं है की अनपढ़ महिलाओं के लिए काम कैसे मिलेगा तो नाश्ते की दूकान से कमाई करना एक महिला के लिए बहुत बड़ी बात नहीं है, औरतों को घर के कामों के साथ ही खाना, नाश्ता बनाना तो पहल से ही आता है। 

और इस बात का आप बहुत बड़ा फायदा उठा सकतीं हैं सभी लोग जानते है की जो लोग परिवार से, दूर रहते है या फिर जल्दी ऑफिस जाना होता है उन्हें घर नाश्ता नसीब नहीं होता है खासकर उनको जिनको नाश्ता भी नहीं बनाने आता हो। 

ऐसे में अगर आप उनके लिए नाश्ते की दुकान खोलकर उनको गरम गरम नाश्ता देंगी तो सोचिये उनका नाश्ता भी हो जाएगा उसके साथ आपकी कमाई भी हो जायेगी। 

प्रॉफिट मार्जिन: 40%-50%

निवेश: 10 से 20 हज़ार तक

कमाई: महीने का 40 से 60 हज़ार रुपया

रॉ मटेरियल: पोहा, चना, बेसन, आलू, प्याज, टमाटर, हरी सब्जी, धनिया, मटर, मैदा, हरी मिर्च, सूजी, आटा, गैस, चूल्हा, बड़ी कढ़ाई, बड़े बर्तन, इत्यादि।

इस काम को शुरू करने के लिए आपको कच्चा माल का सामान तो आपके घर से ही मिल जाएगा लेकिन जैसे जो बड़े बर्तन होंगे वो तो आपको खरीदना ही पड़ेगा, क्यूंकि किराए हमेशा के लिए तो कोई देगा नहीं। 

इस बात का आपको ध्यान देना है कि नाश्ते के लिस्ट में अलग तरह का नाश्ता होना चाहिए जिससे आपके ग्राहकों को हर दिन नाश्ते में कुछ अलग मिले एक ही नाश्ता रोज नहीं होना चाहिए, और नाश्ता स्वस्थ भी होना चाहिए जैसे पोहा, इडली सांभर, डोसा, ढोकला, उपमा, बेसन चिल्ला इत्यादि। 

खाने पीने से जुड़ा कोई भी व्यवसाय हो उसमें सफाई का ख़ास ध्यान देना पड़ता है जिससे आपके ग्राहकों पर गलत प्रभाव न पड़े, नहीं तो इसका प्रभाव आपकी कमाई पर भी पड़ सकता है। 


पानी पूरी बेचकर 

पानी पूरी बेचकर 

पानी पूरी एक अनोखा व्यवसाय होने के साथ ही एक ऐसी खाने की चीज है जिसे हर उम्र के लोग खाना पसंद करते हैं, जिसका नाम सुनते ही लोगों के मुँह में पानी आ जाता है। 

आपने ज्यादातर देखा होगा की इस काम को पुरुष ही करते हैं बाजार में, चौराहे पर, गली, मोहल्लों में, ठेले के साथ  अधिकतर पुरुष ही दिखाई देते हैं लेकिन ऐसा नहीं है महिला भी इस व्यवसाय को शुरू कर सकतीं हैं चाहे वो अनपढ़ हो या पढ़ी लिखी और अच्छे खासे पैसे भी कमा सकती है।  

इसकी मोटी मिसाल दी है दिल्ली की एक महिला तापसी उपाध्याय ने, जिसने बीटेक पास किया है वो भी हैंडग्लोव्स  और साफ़ सफाई के साथ पानी पूरी बेचकर पैसे कमाती है। 

प्रॉफिट मार्जिन: 50%- 60%

निवेश: 10 से 15 हज़ार तक

कमाई: महीने का 40 से 60 हज़ार रुपया

रॉ मटेरियल: आटा, सूजी, तेल, इमली, पानी, आलू, छोला, मटर, पानी पूरी मसाला, काला नमक, पिसा हुआ जीरा, ठेला इत्यादि। 

इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए आपको ज्यादा सामग्री की जरुरत नहीं होती है ज़्यदातर सामान रसाई में ही मिल जाएगा और जो नहीं होगा उसे आप दूकान से भी खरीद सकती हैं और बड़े बड़े बर्तन और सामान आपको खरीदने होंगे जो काम पैसों में भी आप खरीद सकते हैं। 

इस व्यवसाय की शुरुआत आप एक ठेले से भी कर सकतें हैं या स्टॉल भी लगा सकते हैं। पानीपुरी के ठेले को आप ऐसे जगह पर लगा सकतें हैं जहाँ पर लोगों की ज्यादा भीड़ होती हो जैसे की गार्डन, स्कूल, टूशन, हॉस्पिटल, कॉलेज, सिनेमाघर, बाजार में, इत्यादि। 

अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए साफ़ साफी का ख़ास ध्यान देना होगा क्यूंकि ऐसे बहुत से ग्राहक मिल जातें हैं जो सफाई देखकर ही आते है, ऐसे में अगर सफाई से आप उनको पानी पूरी खिलातें हैं तो हो सकता है वो बार बार आये, इससे आपके बिज़नेस पर काफी अच्छा प्रभाव पद सकता है। 


मसाले बेचकर 

मसाले बेचकर 

भारत में आपको मसाले के बहुत शौक़ीन मिलेंगे, बिना मसलों के किसी किसी सब्जी में तो मजा ही नहीं आता है। देखा जाए तो लगभग बहुत से खाने के आइटम्स हैं जिसमें मसलों जरूरत होती है। इसलिए मसालों का व्यवसाय काम पढ़ी लिखी महिलाओं के लिए पैसे कमाने का सबसे बढ़िया आइडियाज है। 

प्रॉफिट मार्जिन: 55%-70%

निवेश: 40 से 60 हज़ार तक

कमाई: महीने का 25 से 30 हज़ार रुपया

रॉ मटेरियल: लाला मिर्च, धनिया, हरी मिर्च, गरम मसाला, दाल चीनी, जीरा, कालीमिर्च, हल्दी, खड़ा मसाला इत्यादि। 

आप बाजार जाकर खड़े मसालें खरीद सकतीं हैं और घर या जहाँ आपको मसलों का व्यवसाय शुरू करना है वहां पर आप सामान इकट्ठा कर लीजिये मसलों को पीसने के लिए आपको एक से दो मशीनों की जरुरत होगी, जिसे आप कम लागत में भी खरीद कर खड़े मसालों को उसमें पीसकर, उसे पैकेट में पैक करके आसानी से बाजार में बेच सकते हैं। 

इस व्यवसाय में सफलता मिलने की संभावना काफी अच्छी है मसाले भी 12 महीने चलने वाले बिज़नेस में से एक है जिसे कम बजट में शुरू किया जा सकता है।


पेन की पैकिंग करके 

पेन की पैकिंग करके 

पेन पैकिंग का काम कोई भी बड़े ही आसानी से कर सकते है इस काम को करने के लिए आपके किसी तरह के स्किल्स जरूरत नहीं  होती है इसे अनपढ़ लोग या कम पढ़ी लिखे महिलाये, पढ़ने वाले स्टूडेंट्स और पुरुष भी कर सकता है। 

इसमें पैकिंग कैसे करना है वो आना चाहिए, अगर नहीं  आता है तो आप ऑनलाइन या फिर किसी एक्सपर्ट व्यक्ति से भी सिख सकते है, अगर आप पेन की पैकिंग का काम घर से शुरू करते हैं तो आपके पास जगह होना चाहिए नहीं तो आप छोटा सा कमरा भी किराये पर ले सकते है, जहाँ पर आप अपना काम अच्छे से कर सके। 

पेन पैकिंग के काम में आपका ज्यादा समय नहीं जाएगा इसे आप पार्ट टाइम जॉब के तरह भी ले सकते है इस काम को आप 2 से 3 में भी आसानी से कर सकते है, इतने में ही आप महीना का अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं। 

प्रॉफिट मार्जिन: 10%-20%

निवेश: 45 से 50 हज़ार तक

कमाई: महीने का 30 से 70 हज़ार रुपया

रॉ मटेरियल: पेन का कवर, पेन की नली, पॉलीथिन, कार्टून इत्यादि। ये सब कंपनी आपको उपलब्ध कराती है आपको बस पेन या पेंसिल की पैकिंग करके उनको वापस देना होता है। 

पेन पैकिंग के व्यवसाय में अगर आप फुल टाइम काम करेंगे तो लगभग महीने का 20 से ₹50000 तक बड़े ही आसानी से कमा सकते हैं वो भी घर बैठे। 

पैकिंग के काम में हम कई तरह की चीजें पैक कर सकते है, जैसे मसाले, साबुन, चायपत्ती, खिलौने, छोटे पाउच, गिफ्ट और बिंदी इत्यादि। और अलग-अलग तरह के प्रोडक्ट के लिए पैकिंग भी अलग-अलग तरह की होती है।

बहुत सारी कंपनियां ऐसी हैं जो आपको पेन पैकिंग का काम देगी, जिसमें आपको पैसे खर्च करने की जरूरत भी नहीं होगी। कंपनियां आपको पेन और पैकिंग के डिब्बे और भी पैकिंग के कई सामान जो लगता है वो आपको देगी, जिसे आपको घर बैठे आसानी से पैक कर सकते हैं और फिर काम पूरा होने के बाद कंपनी को उनका पार्सल दे दीजिए। 


अगरबत्ती बनाने का काम 

अगरबत्ती बनाने का काम 

अगरबत्ती का इस्तेमाल भारत में ही नहीं बल्कि अन्य देशों में भी किया जाता है, जो घर को खुशबू देने के साथ साथ मच्छरों को भगाने का भी काम करता है। इसी बात का फायदा उठाकर इसे व्यवसाय के तौर पर शुरू किया जा सकता है।

आप गांव में रहती हो या फिर शहर में अगर आप अनपढ़ महिलाओं के लिए काम की तलाश में है तो निश्चिन्त हो जाइये क्योंकि अगरबत्ती बनाने का काम अनपढ़ या कम पढ़ी लिखी महिलाये घर बैठे आसानी से करके महीने की मोटी कमाई कर सकती हैं।  

प्रॉफिट मार्जिन: 20%-50%

निवेश: 15 से 20 हज़ार तक

कमाई:  महीने का 50 से 60 हज़ार रुपया

रॉ मटेरियल: बांस की लकड़ी, महकने वाले केमिकल, तेल, इत्र, बुरादा, चन्दन, कलर पाउडर, पैकिंग के लिए सामग्री इत्यादि।

इस बिज़नेस को घर बैठे छोटे स्तर से आसानी से शुरू किया जा सकता है, अगरबती के व्यवसाय की डिमांड भी साल के 12 महीने रहती है और जो त्योहारों में दुगनी हो जाती है।  

इस बिज़नेस को घर से शुरू करने पर आपको सिर्फ इसके रॉ मटेरियल की आवश्यकता होती है जिसमें ज्यादा चर्चा नहीं होगा, और रॉ मटेरियल आपको बाजार में आराम से मिल जाएगा। 


पानी की दुकान 

पानी की दुकान 

पानी के बिना जीना संभव ही नहीं है इसलिए इस व्यवसाय से महिलाएं ही नहीं बल्कि कोई भी अच्छी कमाई कर सकता है आप गांव में रहतें है या फिर शहर में इस काम को करके काफी अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है। 

पानी का कारोबार शुरू करने के लिए आपको पढ़ाई की जरुरत नहीं होती है लेकिन इतना पता होना चाहिए की वाटर प्लांट मशीन को कैसे इस्तेमाल करना है। 

पानी का व्यवसाय शुरू आपको एक मिनरल वाटर प्लांट मशीन खरीदनी होगी जिसकी शुरुआती कीमत लगभग 50 हज़ार से शुरू होती है इस मशीन का काम होगा, गंदे पानी या नार्मल पानी को साफ़ करके आरओ में बदलना जो पीने लायक होता है। 

प्रॉफिट मार्जिन: 15%-35%

निवेश: 50 से 60 हज़ार तक

कमाई:  महीने का 45 से 50 हज़ार रुपया

रॉ मटेरियल: रो मिनरल वाटर मशीन, पानी के जार और बॉटल्स इत्यादि।

अब आपको जार या पानी के बॉटल्स खरीदने होंगे जिसमें आप आरओ पानी को भरकर ग्राहकों को सप्लाई करेंगी, जितने ज्यादा पानी के बोतल होंगे उसके हिसाब से आपकी कमाई होगी। आप एक जार की कीमत 20-30 में बेचकर महीने में हज़ारों कमा सकतें हैं। फिर आपको छोटी गाड़ी लेनी होगी जो पानी के कंटेनर्स को ग्राहकों तक पंहुचा सके। 

एक बार बिज़नेस चल जाने पर आप कई तरह की सुविधाएं अपने ग्राहकों तक पंहुचा सकतें है जैसे बॉटल्स में पानी भरने वाली मशीन, जो पानी को जल्दी भर देगी इससे आपका काम और भी आसान हो जाएगा, जितने ज्यादा जार और बॉटल्स आपके पास होंगे आपकी कमाई भी दोगनी होती जायेगी इत्यादि। 

पानी की सप्लाई आप ऑफिस में, स्कूल में, हॉस्पिटल्स में, इत्यादि पर दे सकते हैं और अपने प्रचार प्रसार के लिए लोगों में बात फैला सकते हैं या फिर जो गाड़ी आप सप्लाई के लिए लेंगे, उसका इस्तेमाल करके लोगों में अपने बिज़नेस का अच्छा प्रचार कर सकते हैं। 


किराना की दुकान खोलकर 

किराना की दुकान खोलकर 

किराने की दूकान का बिज़नेस एक अनपढ़ महिला के लिए बेस्ट बिज़नेस आइडियाज में से एक है जिसमें आपको किसी भी तरह के स्किल्स या पढाई की जरूरत नहीं होती है इस काम को स्टूडेंट्स, लेडीज, बेरोजगार, पुरुष कोई भी आसानी से कर सकता है। 

आपने ज्यादातर देखा होगा की किरानों की दुकानों पर पुरुष तो होते ही है लेकिन महिलाएं भी दिखती हैं और देखा जाए तो महिलाएं इस व्यवसाय को काफी अच्छी तरीके से संभाल भी सकती है। 

किराने की दुकान आप अपने घर के एक कमरे से ही शुरू कर सकती हैं जिसमें आपको किराया का खर्चा नही होगा, बाकी का सामान आप बड़ी दूकान या फिर बाजार से थोक भाव में लाकर महीने की मोती और बढ़िया कमाई कर सकती है। 

प्रॉफिट मार्जिन: 15%-30%

निवेश: 50 से 80 हज़ार तक

कमाई: महीने का 20 से 50 हज़ार रुपया

रॉ मटेरियल: शक़्कर, तेल. चावल, आटा, तेल, मसाला, दाल, ड्राई फ्रूट्स, चिप्स, पापड, नमकीन, बिस्किट्स, शैम्पू, सेविंग क्रीम, ब्रश, क्रीम, साबुन, हिमालय फेस वाश, रूम फ्रेशनर, इत्यादि। 

आपके दूकान में सामान वही रखो जिसकी रोज के दिनचर्या में ज्यादा जरूरत हो, राशन का सामान जैसे दाल, चीनी, मसाले, आटा, जीरा, नमक, चावल, इत्यादि और बच्चों के लिए जैसे बिस्कुट, नमकीन, चकली, रामदाना, चॉकलेट इत्यादि।

अगर आप ऐसी जगह रहती है जहाँ कॉलोनी है या बहुत जयादा भीड़ रहती हो तो आपके दुकान की लोकेशन भी  ऐसी ही जगह होनी चाहिए जहां पर किराने की दुकान कम हो, इसमें आपका बहुत बड़ा फायदा होगा, जितनी कम दूकान होगी उतने ज्यादा ग्राहक आपके दुकान पर आएंगे। 

सबसे जरुरी बात आज के समय में दुकानदारों के व्यवहार पर निर्भर करता है की कोन से दुकान से सामान खरीदना है इसलिए इस बात पर आपको ज्यादा ध्यान देना होगा, इसके अलावा आप जितने साफ़ सुधारा दूकान को रखेंगे उतने ग्राहक भिओ दूकान की और आकर्षित होंगे। 


कपड़े प्रेस करके

पहले के ज़माने में बराबर लाइट नहीं हुआ करती थी उस ज़माने में लोग कोयले के आयरन का इस्तेमाल करते थे कपडे प्रेस करने के लिए, और पूरे गांव में मुश्किल से किसिस एक घर में ही स्त्री होती थी उसी से सबका काम चलता था। 

लेकिन आज के समय में देश के एक एक कोने में बिजली पहुंच रही है एक महिला होने के साथ साथ अगर आप पढ़ी लिखी नहीं है और आपको काम चाहिए तो कपडे प्रेस करने का काम आसानी से कर सकती हैं और घर बैठे अच्छे खासे पैसे भी कमा सकती हैं। 

जैसे की सभी जानते हैं और हमारे आस पास ऐसे अधिकतर लोग होतें है जो जॉब करते हैं या ऑफिस जाते है तो सीधी सी बात है उनके पास इतना समय नहीं होता है की अपना कपड़ खुद प्रेस कर सकें, और किसी किसी घर में तो पति पत्नी दोनों काम पर जाते हैं। 

ऐसे समय में उन्हें लगता है की कपडे प्रेस किये हुए मिल जाते तो और भी अच्छा होता। इस बात का फायदा उठा सकती हैं और महीने का अच्छा मुनाफा कमा सकतीं हैं। 

प्रॉफिट मार्जिन: 40%-60%

निवेश: 30 से 40 हज़ार तक 

कमाई: महीने का 40 से 75 हज़ार रुपया

रॉ मटेरियल: कपड़े प्रेस करने के लिए आयरन, कमरा नहीं तो आपका घर ही काफी है। 

इस काम को अगर आप पार्ट टाइम के तौर पर भी करेंगे तो भी चलेगा बस ग्राहकों तक उनका प्रेस किया हुआ कपड़ा समय से पहुंच जाना चाहिये। इस काम को  लिए आपको कमरा किराये पर लेने की कोई जरूरत नहीं है आपका घर ही आपके लिए काफी होगा।

आप एक कपडे प्रेस करने का 5 से 10 रुपये चार्ज कर सकते हैं और अगर 5 रुपये के हिसाब से आप 1 घंटे में 10 कपडे प्रेस करते हैं तो रु50 एक घंटे में आसानी से कमा लेंगे, इस तरह से आप रोज का 6 घंटे भी काम केरंगी तो एक दिन का 300 बड़े ही आराम से कमा लेंगी। 

अब ग्राहकों को कैसे मिलेंगे, उसके लिए आपको लोगों से बात करनी होगी, लोगों में बात फैलाएं, उनको अपना कांटेक्ट नंबर दीजिए जिससे आपको काम मिल सके। 


आलू चिप्स बनाने का काम 

आलू चिप्स एक ऐसा खाने वाला नाश्ता है जिसे हर उम्र के लोग खाना पसंद करते है खासतौर पर बच्चों को चिप्स ज्यादा चाहिए होता है। ऐसे में अनपढ़ महिलायें इस कम् को शुरू कर के अच्छा मुनाफा कमा सकती है। 

आज कल के समय में ये सभी जानते हैं कि चिप्स कैसे बनता है क्यूंकि हमारे घर में होली और दिवाली ऐसे मौके पर चिप्स पापड़ तो बनता ही है। इसलिए महिलाओं को इस काम में ज्यादा दिक्कत नहीं होगी। 

लेकिन अगर आप ये काम शुरू करने वाली है तो आपको ज्यादा मुनाफा तभी मिलेगा जब आप अपने चिप्स को अलग तरह से ज्यादा स्वाद वाला बनाएंगी। 

प्रॉफिट मार्जिन: 30%-40%

निवेश: 20 से 30 हज़ार तक

कमाई: महीने का 15 से 20 हज़ार रुपया

रॉ मटेरियल: चाट मसाला, नमक,  दाना वाली मिर्च, चाट पाउडर, तेल, जरा, बनाने के लिए मशीन सुखवाने के लिए बड़ी पन्नी इत्यादि।   

जब आपका चिप्स बनकर तैयार हो जाएगा तो उसका स्वाद पता करने के लिए आप बच्चों को, परिवार में, अपने आस पड़ोस में दे सकती हैं, इससे लोगों तक प्रचार भी होगा साथ ही साथ जिससे स्वाद में कोई गड़बड़ हुए तो आप सुधार सकती हैं।     

शुरुआत में छोटे लेवल से इस बिज़नेस को करेंगी तो आप अपने घर से ही इस काम को आगे बड़ा सकतीं है फिर मुनाफा मिलने के बाद आप कमरा लेकर या बड़ी जगह पर इस बिज़नेस को शुरू कर सकती है। 

आप छोटे लेवल पर या बड़े लेवल पर कोई भी व्यवसाय करेंगी उसमें आपको कोई न कोई प्रतिद्वंदी जरूर मिलेगा इसलिए कोई भी काम करेंगे तो सबमें सावधानी बरतें। 


आटा चक्की की दुकान

आटा तो हर रोज इस्तेमाल होने वाली सामग्री है क्योंकि रोटी भारत में सभी लोग खाते हैं, तो सोचिए रोज में इस्तेमाल होने वाली चीज जल्दी ख़तम भी हो जाती है फिर तो इस काम को आसानी से शुरू किया जा सकता है, और हर रोज पैसा भी कमा सकतीं हैं। 

अनपढ़ महिलाओं के लिए ये काम ज्यादा मुश्किल भी नहीं है बार आपको आटा पीसने की मशीने चलाना सीखना होगा, आप दूकान से आटा की मशीन लेंगे वो दुकानदार आपको मशीन चलाना सीखा दे, नहीं तो आप गूगल और यूट्यूब से भी सिख सकते हैं। 

इस काम को शुरू करने के लिए आपको एक किराए के कमरे की जरूरत होगी क्योंकि घर में इस काम को शुरू करने से घर गन्दा होगा और मशीन ज्यादा जगह भी ले सकती है।  

प्रॉफिट मार्जिन: 35%-40%

निवेश: 50 से 60 हज़ार तक

कमाई: महीने का 20 से 25 हज़ार रुपया

रॉ मटेरियल: आटा पीसने की मशीन और जमीन इत्यादि। 

आप गांव में रहते हो या फिर शहर में कहीं भी अपनी आटा चक्की का व्यवसाय शुरू कर सकती हैं। हो सकता है इस बिज़नेस के लिए आपको लाइसेंस की आवशयकत पढ़ सकती है। 

जहाँ पर ज्यादा भीड़भाड़ होता वो उस जगह पर इस बिज़नेस से आप ज्यादा मुनाफा कमा सकती हैं कोशिश करें की ऐसी ही किसी जगह पर कमरा लें।


अचार का बिज़नेस 

आपने देखा होगा अक्सर लोग घर का बना हुआ अचार खाना ज्यादा पसंद करते है ऐसा नहीं है की दुकान का अचार कोई नहीं लेता नहीं है लेकिन घर के अचार का स्वाद ऐसा होता है कि हर किसी को खाने का मन करता है। 

देखा जाए तो इस बिजनेस में ज्यादा फायदा भी है क्यूंकि अचार साल के बारह महीने खाया जाता है, और कई तरह के अचार होते है जैसे, आम, करौंदा, आंवला, निम्बू, गाज़र, करेला, मिक्स वाला अचार, मिर्ची का अचार,  इसलिए बाजार में और लोगो में इस बिज़नेस की डिमांड भी बढ़ती रहती है। 

अगर आपको अचार बनाने आता है तो बिना किसी सवाल के अनपढ़ महिलाएं घर बैठे इस बिसनेस को शुरू कर के महीने का तगड़ा मुनाफा कमा सकती हैं इससे कोई फरक नहीं पड़ता की इस काम को गांव में शुरू करें या फिर शहर में।  

प्रॉफिट मार्जिन: 45%-50%

निवेश: 40 से 50 हज़ार तक

कमाई: महीने का 20 से 35 हज़ार रुपया

रॉ मटेरियल: कच्चे फल और सब्जियां, मसाले, मेथी, अजवाइन, सौंफ, जीरा, मिर्च, सरसो का तेल, बड़े बर्तन इत्यादि।

इतना याद रखियेगा की आपके अचार का स्वाद सबसे यूनिक होना चाहिए, क्योंकि प्रतिस्पर्धा की दुनिया में, कोई कमी नहीं है तभी आपका अचार अच्छा बिकेगा, और बाजार में किस तरह के अचार की डिमांड ज्यादा बढ़ रही है ये भी पता करते रहना होगा। 

इस बिज़नेस को अगर घर से शुरू करेंगी तो आपका किराए का पैसे भी बचेगा, इस तरह से आप कम बजट के साथ महीने अच्छा ख़ासा पैसा भी कमा सकती हैं।  


टिफ़िन सर्विस का काम  

खाना बनाना में महिलाएं माहिर होती है चाहे वो अनपढ़ हो या फिर पढ़ी लिखी। अगर आप एक अनपढ़ महिला है और काम की तलाश में है तो आपकी कोशिश यही खतम होती है। 

टिफ़िन सर्विस का बिज़नेस एक ऐसा व्यवसाय है जिसे महिलायें ही सही ढंग से संभाल सकती है, और इस बिज़नेस में आपक ज्यादा खर्चा भी नहीं होता है कम बजट के साथ टिफ़िन सर्विस को आसानी से शुरू किया जा सकता है। 

आप अपने घर से ही और अपने किचन के सामानों का उपयोग करके इस बिज़नेस की एक नई शुरुआत कर सकतीं हैं और लोगों को घर जैसा स्वादिष्ट खाना खिला सकती हैं। 

प्रॉफिट मार्जिन: 45%-55%

निवेश: 20 से 45 हज़ार तक

कमाई: महीने का 20 से 30 हज़ार रुपया

रॉ मटेरियल: अलग अलग तरह की दाल, आटा, नमक, तेल, मसाले, चीनी, चाय इत्यादि। 

जो लोग परिवार से दूर रहकर बड़े शहरों में पढाई, नौकरी, ऑफिस, के लिए कहीं बाहर रहने चले जाते हैं और उनको खाना भी नहीं बनाने आता हो ऐसे में लोग सोचते हैं कि काश घर जैसे खाना यहाँ पर भी मिल जाए, आप उनकी ये इच्छा पूरी कर सकती है और घर बैठे ही महीने का अच्छा ख़ासा पैसा कमा सकती है। 

आपको इस व्यवसाय के लिए बज़्ज़ार से टिफ़िन खरीदने होंगे जिसमें आप लोगों का खाना पैक करेंगी, और आप चाहें तो अपने बजट के हिसाब से उनको और सुवुधा भी दे सकती हैं। 

जितने ज्यादा तेज से टिफ़िन सर्विस की डिमांड बढ़ती चल जा रही है रही है उतने ही तेजी से प्रतिद्वंदी की संख्या भी बहुत है तो इस बात का ध्यान रहें की आपके बिज़नेस को घाटा न हो। 


यूट्यूब वीडियो बनाकर 

यूट्यूब एक ऐसा प्लेटफार्म बन चुका जिसके जरिये घर बैठे लाखों पैसे कमाया जा सकता है। लोगों में यूट्यूब का क्रेज़ इतना ज़्यादा बढ़ गया है की आज के समय में लोग घर बैठे यूट्यूब वीडियो बनाकर बढ़िया मुनाफा कमा रहें हैं।

यूट्यूब पर वीडियो बनाने के लिए कोई स्किल्स या फिर टेक्निकल नॉलेज और खासतौर पर पैसे लगाने की तो बिल्कुल जरूरत नहीं होती है। यूट्यूब घर बैठे पैसे कमाने का काफी पॉपुलर तरीका है जो की एकदम फ्री है। 

अगर आप कम पढ़ी लिखी महिला है या फिर स्टूडेंट है,तो फिर तो आप असानो से यूट्यूब से पैसे कमा सकती हैं। 

उसके लिए आपको अपना एक यूट्यूब चॅनेल बनान होगा जिसके लिए आपके जीमेल अकाउंट की जरूरत होगी।  

मोबाइल से यूट्यूब चैनल कैसे बनाये। ऐसा सर्च करके आप वीडियो देखे और अपना खुद का यूट्यूब चैनल बनाये। 

संबंधित जानकारियां  

प्रॉफिट मार्जिन: 25%-35%

निवेश: 0 रुपये 

कमाई: महीने का 20 से 40 हज़ार रुपया

रॉ मटेरियल: एक स्मार्ट मोबाइल फ़ोन इत्यादि। 

यूट्यूब से पैसे कमाने के लिए आपके अंदर ऐसा कोई भी क्वालिटी है जिसे आप लोगों को सीखा सकतें है फिर तो आप यूट्यूब पर वीडियो बनाकर अपलोड कर सकतीं हैं। 

कम पढ़ी महिलाओं और अनपढ़ महिलाओं के लिए यूट्यूब सबसे अच्छा विकल्प है पैसे कमाने का। आप हर रोज नए नए खाना की रेसिपी डालकर या फिर जिसमें आपका इंटरेस्ट हो उसमें वीडियो बनाकर अपलोड कर सकतीं हैं। 

अगर आपके वीडियो पर अच्छे खासे व्यूज आने लगे हैं फिर गूगल एडसेंस से अपने चैनल को मोनेटाइज करवा कर पैसे कमा सकती हैं। इस बिज़नेस की यही तो खासियत है की बिना निवेश किये घर बैठे अच्छी खासी कमाई कर सकतीं है। 


पापड़ का काम 

भारत में पापड़ खाने वालों की संख्या काफी है क्यूंकि सभी लोगों को पापड खाने का बहुत शौख होता है। 

लोग शाम के समय और सुबह के समय पापड़ खाते ही हैं लेकिन खाना खाने के बाद भी कई लोग पापड़ का सेवन करते हैं। 

चाहें आप काम पढ़ी लिखी हो या फिर अनपढ़ हों इस काम को कोई भी आसानी से शुरू कर सकता हैं क्यूंकि इस काम में कोई भी तरह के स्किल्स, डिग्री, की जरुरत नहीं होती है, खासतौर पर महिलाये इस काम को अच्छे से शुरू कर सकतीं हैं। 

वैसे तो पापड़ कई तरह के होते हैं जैसे, मूंग दाल पापड़, आलू पापड़, चावल पापड़, लहसुन पापड़, साबूदाना पापड़, मसाला पापड़, मेथी पापड़, पालक पापड़, इत्यादि। 

प्रॉफिट मार्जिन: 30%-45%

निवेश: 50 से 55 हज़ार तक

कमाई: महीने का 20 से 35 हज़ार रुपया

रॉ मटेरियल: तेल, नमक, काली मिर्च, लाल मिर्च, हींग और सभी मसाले जो पापड़ में डालते हैं इत्यादि। 

आप जिस भी पापड़ को बनाना जानती है उसका व्यवसाय शुरू कर सकते हैं और जिसको नहीं जानती हैं उसका यूट्यूब पर वीडियो भी देख सकती है, जिसमें आपको पूरी जानकरी मिल जायेगी। 

इस बिज़नेस को छोट काम के तौर पर आप अपने घर से ही शुरू कर सकतीं हैं, पापड़ बनने के लिए रॉ मटेरियल आपको अपने घर के रसोई से आसानी से मिल जाएगा और मशीने आप बाजार से कम बजट में भी खरीद सकतीं है। 

अगर आपके पापड़ का स्वाद एकदम अलग मतलब यूनिक रहेगा, तो लोगों को उसका स्वाद भी पसंद आएगा और  ज्यादा बिकेगा भी। पापड़ को बनाने के बाद आप उसको एक पैकेट में पैक करके बाजार या फिर दुकानदार को बेचकर अच्छे पैसे कमा सकती हैं। 


निष्कर्ष 

तो ये थी आज की अनपढ़ महिलाओं के लिए काम की लिस्ट जिसमें से आप कोई भी एक काम को शुरू को सकते हैं और थोड़ी सी मेहनत के साथ अच्छे खासे पैसे कमा सकती हैं।  

ऊपर जितने भी मैंने Part Time Job के बारे में चर्चा की है उसे महिलाओं के अलावा कोई भी कम पढ़ा लिखा इंसान भी आसानी से पैसे कमा सकता है। 

उम्मीद करता हूँ आज का ये आर्टिकल कम पढ़ी लिखी महिलाओं के लिए घर बैठे काम आपको समझ आएगा और काम पाने में सफल हों जाएंगे।  


FAQS 


प्र:अनपढ़ महिलाओं के लिए काम कैसे ढूंढे?

ऊ: विभिन्न छेत्रों में अनपढ़ महिलाओं के लिए कम मिल जाएंगे जैसे, सिलाई का काम, खाना बनाने का काम, खेती करके, टिफ़िन सर्विस आदि।

प्र:क्या बिना पढ़े लिखे काम मिल सकता है?

ऊ: हाँ, बिना पढ़े लिखे भी ऐसे कई काम है जिससे कमाई कर सकते हैं जैसे, बुनाई-कढ़ाई, खेती करके, सफाई कर्मचारी का काम, खाना बनाकर, सब्जी की दूकान, किराना की दूकान आदि। 

प्र:अनपढ़ महिलाओं के लिए सबसे अच्छा बिजनेस कौन सा है?

ऊ: वो आपके क्षमता और रुचि पर निर्भर करता है की किस तरह के काम को आप कर सकते हैं सब्जी और फल बेचकर, खुदरा व्यापार, बच्चों का ख्याल रखकर, नाश्ता की दुकान खोलकर आदि। 

प्र:कम पढ़ी लिखी महिलाये कितना कमा सकती है?

ऊ: आप अपने कौशल, अनुभव और मेहनत के जरिये अच्छी खासी कमाई कर सकती हैं। 

प्र:कौन कौन से छेत्र में अनपढ़ महिलाओं को काम मिल सकता है?

ऊ: अनपढ़ और काम पढ़ी लिखी महिलाओं को कई छेत्रों में काम मिल सकता है साफ़ सफाई काम, खेती करके, सिलाई करके, रुई की बत्ती का काम, अगरबत्ती बनाकर, पानी की सप्लाई करके आदि। 

प्र:महिलाओं को घर बैठे काम कैसे मिलेगा?

ऊ: घर बैठे भी कई सारे काम है जैसे, सिलाई का काम, पेन पैकिंग का काम, किराना की दुकान, टिफ़िन देकर, पापड़ बनाकर, यूट्यूब वीडियो बनाकर, कपडे स्त्री करके आदि।    

Leave a Comment